राजस्थान में किसान कर्जमाफी को लेकर आई ये बड़ी खबर, जिला कलेक्टर के लिए जारी हुए ये निर्देश



जयपुर।
राजस्थान में किसानों की फसल ऋण माफी योजना में हुई अनियमितताओं को लेकर अब सरकार एक्शन मोड़ में आ गई है। हाल ही में सहकारिता विभाग के रजिस्ट्रार डॉ. नीरज के पवन ने बताया कि लागू की गई फसली ऋण माफी योजना, 2018 में जो भी अनियमितताएं सामने आई है उनकी जांच जिला कलक्टर करवाएंगे। फसली ऋण माफी योजना का लाभ पात्र किसानों को ही मिलेगा।


उन्होंने बताया कि इसके लिये सभी जिला कलक्टर के स्तर से अपने-अपने जिलाें में जिला स्तरीय अधिकारियों, बैंक के अधिकारियों एवं सहकारिता विभाग के अधिकारियों की बैठक कर योजना की क्रियान्विति की समीक्षा व परीक्षण करवाया जाएगा।


साथ ही डॉ. पवन ने बताया कि यह निर्णय विभिन्न जिलों विशेषतया डूंगरपुर, भरतपुर एवं चूरू से प्राप्त शिकायतों के क्रम में उठाया गया है। उन्होंने बताया कि इसके लिए लिए सभी जिला कलक्टर को अर्द्धशासकीय पत्र भी लिखा हैं।
उन्होंने बताया कि इन जांचों के बाद जो भी सुझाव प्राप्त होंगे उनके अनुसार कार्यवाही की जाएगी। ऋण माफी योजना के पात्र किसान को लाभ से वंचित नहीं होने दिया जाएगा और जो पात्र नहीं है उसे किसी भी प्रकार से राजकीय धन का अपहरण नहीं करने दिया जाएगा।


साथ ही रजिस्ट्रार नीरज के. पवन ने बताया कि इस जांच से उन कारणों का पता लगाया जाएगा जिनके कारण इस प्रकार की अनियमिततायें हुई हैं ताकि आगे इन्हें रोकने के लिये कठोर कदम उठाये जा सकें।
Jaipur News | Rajasthan NEWS | Latest News Update | Ashok Gehlot | Rajasthan Government | Hindi News Updates

Post a Comment

0 Comments