अब मेरी बारी कार्यक्रम के तहत ग्रामीण स्तर पर बालिका शिक्षा को बढ़ावा देने के उद्देश्य से सामुदायिक स्तर पर मूवी स्क्रीनिंग के माध्यम से बालिका शिक्षा के महत्व को बताया गया

धौलपुर जिले के सैंपल और धौलपुर टू ब्लॉक के 4 गांव में मैजिक बस  इंडिया फाउंडेशन द्वारा इंपैक्ट इंडिया फाउंडेशन एवं दसरा फाउंडेशन के सहयोग से संचालित अब मेरी बारी कार्यक्रम के तहत ग्रामीण स्तर पर बालिका शिक्षा को बढ़ावा देने के उद्देश्य से सामुदायिक स्तर पर मूवी स्क्रीनिंग के माध्यम से बालिका शिक्षा के महत्व को बताया गया एक सर्वे के अनुसार यह देखा गया कि ड्रॉपआउट बच्चों में सबसे अधिक संख्या किशोरी बालिकाओं की है इसी आधार पर ग्राम उमरार आवाज आरा का पुरा में बालिका शिक्षा के महत्व एवं बालिका शिक्षा में मां का विशेष योगदान को दर्शाते फिल्म निल बटे सन्नाटा को एक सामुदायिक हॉल में बड़ी स्क्रीन पर दिखाया गया साथ ही साथ फिल्म की पटकथा से मिलते जुलते सामुदायिक समस्याओं एवं बाधाओं पर भी चर्चा की गई जिनके कारण किशोरी बालिकाओं की पढ़ाई बीच में छूट जाती है मैजिक बस इंडिया फाउंडेशन के रिसोर्स पर्सन  रवि सिंह कुशवाहा एवं समुदाय को बताया कि सुरक्षा का भाव बाल विवाह बाल श्रम संसाधनों का अभाव जैसे बड़े कारणों के साथ-साथ हमारे द्वारा उत्पन्न छोटी-छोटी गलतियों से बच्चों की शिक्षा अधूरी रह जाती है जैसे हम घर में या खेत में काम आने पर बच्चों को स्कूल से रोक लेते हैं किशोरी बालिकाओं को छोटे बहन भाई की देखरेख की जिम्मेदारी सौंप देते हैं ताकि कारण बच्चों पर ध्यान ना दे पाना जिससे वे गलत संगत गलत आदतों व गलत चीजों के आदी हो जाते हैं और भी कई कारण है जिन पर हम ध्यान नहीं देते और उनके दूरगामी परिणाम यह होते हैं कि बच्चे शिक्षा में रुचि नहीं लेते  और उनकी शिक्षा अधूरी रह जाती है अमेरिका री चैंपियन के माध्यम से 2 गांव में किए गए इस कार्यक्रम में महिला एवं किशोरी बालिकाओं को शिक्षा सुरक्षा स्वास्थ्य और पोषण संबंधी जानकारियों से अवगत कराया गया इस कार्यक्रम में प्रशांत रेखा रचना ललिता वर्षा सुंदरी सहित 250 महिलाओं ने भाग लिया  प्रदीप उपाध्याय ने सभी समुदाय को इस कार्यक्रम से जुड़ने के लिए धन्यवाद ज्ञापन किया



Post a Comment

0 Comments